हमारे बारे में

संपर्क करें

Technology CDN kya hai और इसके फायदे क्या है

CDN kya hai और इसके फायदे क्या है

दोस्तों Cdn के बारे में अक्सर आपने सूना होगा और आपके मन में Cdn को लेकर कई सारे सवाल भी होंगे। इसलिए आज हम आपको CDN kya hai और इसके फायदे क्या है। इस बारे में पूरी जानकारी देने वाले वाले है यदि आप पूरा Article को Read करते हैं तो आपके सारे सवालों के जबाब मिल जायेगे।

जब आप एक वेबसाइट बनाते हैं तो एक Hosting company पर अपना Account बनाते हैं और अपनी वेबसाइट की Files को उस Account में Upload कर देते हैं यह Hosting company इन सारी Files को एक Computer पर Store करती है। ये Computer किसी एक ख़ास Location पर होगा और आपकी वेबसाइट को Visit करने वाला कहीं पर भी हो सकता है दुनिया में तो Basically आपकी वेबसाइट की Files उस एक Location से सारे वेबसाइट Visitors की Location तक बार बार Travel करती हैं और ये आने जाने में लगने वाला समय आपकी वेबसाइट को Slow कर देता है तो इस Problem का Solution क्या होगा काश आपकी Hosting company के Server पूरी दुनिया में हर जगह पर होते तो वेबसाइट की Files को इतना ज़्यादा लंबा Travel नहीं करना पड़ता।

और CDN बिल्कुल यही काम करते हैं CDN यानी की Content Delivery Network में नेटवर्क Already मौजूद है यह दुनिया भर में फैले हुए Servers का एक Network होता है जो आपकी वेबसाइट से Files को उठाकर Temporary Memory यानी Cash में Save कर लेता है और फिर जहां से भी जो भी Visitor आपकी वेबसाइट को Visit करना चाहता है उसे उसके सबसे करीबी Network से सबसे करीबी Server से इन Files को Delivery कर देता है और आपकी वेबसाइट फास्ट हो जाती है पर ये आधी अधूरी Picture है।

CDN यूज करने के कुछ और भी फायदे हैं

  1. नंबर 1 आपके Hosting server का Load कम हो जाता है। अगर आप एक Startup हैं और एक सस्ती Hosting use कर रहे हैं तो आपको Performance से benefit मिलेगा और अगर आप एक E commerce वेबसाइट चला रहे हैं और उसमें Users बेस पर अब Hosting services को Bill Pay कर रहे हैं तो आपको Billing में फायदा मिलेगा।
  2. नंबर 2 आपकी वेबसाइट की Availability बढ़ती है यानी कि उसका Down time कम हो जाता है। होस्टिंग सर्वर भी Normal computers की तरह CPU और RAM पर चलते हैं जब आपकी वेबसाइट किसी User के Device में Load होती है तो ऐसे में आपके सर्वर का CPU और RAM जो बहुत ज्यादा Load झेल रहा होता है और अगर बहुत सारे User एक साथ ही सर्वर पर Request करेंगे तो वो computer slow होगा यानी कि आपकी वेबसाइट का सर्वर स्लो होगा और आपकी वेबसाइट Slow हो जाएगी सो अगर आप CDN यूज करते हैं तो आपकी वेबसाइट की Files user को सीधे CDN के Network से मिलेंगी और User को आपकी वेबसाइट के Server तक जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी आपके Server के Load से वेबसाइट स्लो नहीं होगी।
  3. नंबर 3 आपकी वेबसाइट की Security बढ़ जाती है। Hosting companies कई बार रेट कम करने के चक्कर में Security provide नहीं कर पाती हैं लेकिन CDN, Batter file security provide करते हैं अगर किसी खास Ip address से वेबसाइट पर ज्यादा Traffic आता दिखाई देता है तो वो उसे Real समय में Detect कर सकते हैं।
  4. नंबर 4 User experience अच्छा हो जाता है CDN आपकी वेबसाइट से Files को पिक कर लेते हैं लेकिन यूजर को उनकी Device के बेस पर ई फाइल भेजते हैं। सिर्फ वही Files download करनी पड़ती हैं यूजर को जिसकी उन्हें जरूरत है जिनसे अपनी वेबसाइट की Performance बढ़ जाती है और User experience अच्छा हो जाता है।
  5. नंबर 5 CDN काफी सस्ता है इतने सारे Benefits के बावजूद CDN काफी सस्ता और Free है Cloudflare के एक Pree plan available है। किसी भी साइड के लिए आप इसे Use कर सकते हैं ये काफी सारे फायदे हैं लेकिन कुछ ऐसे Points भी हैं जो आपको जान लेने चाहिए। इससे पहले आप किसी भी CDN Service को Use करना शुरू करें।

CDN कोई Magic solution नहीं है

CDN कोई Magic solution नहीं है जो आपकी वेबसाइट को Fast कर देगा जैसा कि मैंने अभी समझाया CDN आपके सिर्फ Server से Files को Cash में अपने पास save करता है ताकि सबसे नजदीकी Server से User को Delivery कर सके अगर आपकी वेबसाइट के कोड में ही कोई Fault है जिसकी वजह से आप की वेबसाइट Slow हो रही है तो CDN पर भी Slow बनी रहेगी। अगर आपकी वेबसाइट की CSS file minify नहीं है या Java mini file सही नई है तो वो CDN पर भी ऐसी ही रहेंगी। इसलिए इस CDN को ये सोच कर मत करिए कि सिर्फ एक यही चीज आपकी वेबसाइट को Fast कर देगी।

यह भी पढ़े: लोको पायलट क्या है और लोको पायलट कैसे बने

CDN हर वेबसाइट के लिए जरूरी नहीं है

Examination के लिए अगर आपकी वेबसाइट किसी ऐसे Business के बारे में है जो India के सिर्फ एक शहर में ही काम करता है तो उसके Visitor भी सिर्फ उसी शहर से होंगे ऐसे में आपको किसी CDN की जरूरत नहीं है जो Poland और Alaska में वेबसाइट को ख़ास सर्च कर सके और अगर आप की वेबसाइट ऐसी किसी Hosting पर Host है जिसका Server india में ही है तो आपको CDN से कोई ज़्यादा Benefit optimisation में नहीं होगा performance में नहीं होगा पर यहां एक दूसरा Point भी है Examination के लिए अगर आप की वेबसाइट का Hosting सर्वर California में है और Local business इंदौर में है तो आपको Cloudflare CDN के Free plan से भी फायदा होगा क्योंकि Cloudflare के सर्वर्स इंडिया में बैंगलोर, चेन्नई, हैदराबाद, कोलकाता, मुम्बई, नागपुर और न्यू दिल्ली में जो आपकी वेबसाइट के Users को नजदीकी Server से ही Files मिल जाएंगी California की Server का वेट नहीं करना पड़ेगा।

CDN को अपनी वेबसाइट के साथ Setup कैसे करे

अब बात करते हैं मुद्दे की यानि कि कैसे CDN को अपनी वेबसाइट के साथ setup करना है मेरे पसंदीदा CDN हैं वह Cloudflare, Stackpath, और Key CDN इन तीनों की अपनी अपनी Strength है और इन सब को Set-up करने का तरीका भी अलग है लेकिन अगर आप Free CDN use करना चाहते हैं तो आपको Cloudflare को यूज करना चाहिए Cloudflare Performance security और अब Time के मामले में बहुत अच्छा है सबसे अच्छा Popular है आपने जरूर इसका नाम सुना होगा और अब Free है इस Articles में हम Cloudflare से अपनी वेबसाइट को सेटअप करने का तरीका देख लेते हैं।

No.1 सबसे पहले जाइए Cloudflare.com पर और अपना Free account बनाये Account बनाने के बाद Login करे।

No.2 Login करने के बाद आपको इस तरह से Dashboard दिखाई देगा यहां पर Add site बटन का उपयोग करके अपनी वेबसाइट का URL Enter करे HTTPS:// या HTTP:// की जरूरत नहीं है सिर्फ NAKED DOMAIN टाइप करिए बहुत है।

No.3 यहां पर आपको अपने Plan को Select करना है अभी हम यहां Free option को Select कर लेते हैं और नीचे Click करते ही Confirm button पर।

No.4 यहां आपको Cloudflare आपकी साइट के सारे Records की List दिखाएगा जिसमें जितने ये Yellow icon बने हुए ये सारे Cloudflare Proxy कर लेगा और जहां ये Grey icon बने हुए ये Cloudflare, handle नहीं करेगा और अब Click करे Continue button पर।

No.5 अब यहां आपको अपनी वेबसाइट पर Ownership proof करनी होगी ऐसी किसी और के Domain को आप Cloudflare पर नहीं लगा सकते हैं आपको Proof करना ही होगा कि ये Domain Real में आपका है अभी आपको दो नए Nameserver दिखाई देंगे पहला Current nameserver जो भी आपकी वेबसाइट में इस्तमाल हो रहे हैं और दूसरा दो नए डोमेन Nameserver दिखाई देगा जिनको अब आपको Use करना है सो इन दोनों को कॉपी करके एक Notepad में Save कर लीजिए और अपने डोमेन नेम Register account में जाकर Nameserver को हटा कर ये दोनों Nameserver पेस्ट कर दीजिए और अब Click करिए डन Check nameservers पर।

  1. इस विंडो पर Full को सिलेक्ट रहने दीजिए।
  2. Always Use HTTPS को ऑन कर दीजिए।
  3. Auto Minify को ऑन कर दीजिए JavaScript, CSS और HTML तीनों को ऑन कर दीजिए।
  4. Brotli को ऑन कर दीजिए।
  5. Affected करिए Done पर।

अब यहां आपको शो करेगा कि Complete Your Name Server Setup जो की आपने अभी-अभी आपने Nameserver चेंज कर दिए हैं पर चिंन्ता ना करें आपने कुछ Miss नहीं किया है Nameserver चेंज होने में Complete effective होने में 24 घंटे तक लग सकते हैं कुछ मिनटों में भी हो जाता है पर कई बार 24 घंटे तक लग सकते हैं। इसलिए आप 24 घंटे बाद देखेंगे तो Notice अपने आप चला जाएगा आपकी वेबसाइट Cloudflare CDN पर Successful link हो चुकी है तेज वेबसाइट आपको मुबारक हो।

आपका Cloudflare account पहले से Best performance के लिए Optimize हैं लेकिन अगर आप थोड़ा और Extra value चाहते अपने Free plane से तो कुछ ऐसी Settings हैं जिन्हें आप Use कर सकते है।

  1. सिलेक्ट करिए Speed को और फिर क्लिक करिए Optimization पर।
  2. फिर नीचे तक Scroll करिए और यहां इस Rocket load को ऑन कर दीजिए ये JavaScript में अपनी वेबसाइट की पूरी मदद करता है।
  3. इसके बाद ऊपर वापस जाइए और Click करिए Caching को इसमें ब्राउजर की Ideal को 10 से 12 दिन पर सेट कर दीजिए।
  4. अगर आपकी वेबसाइट बहुत जल्दी-जल्दी Update होती है तो इस समय को कम ही रखिए। एक दिन तो बहुत है।

इसके अलावा बाकी सारी सेटिंग्स पहले से ही Optimize हैं या फिर Pad account के लिए उपलब्ध हैं Free Settings इतनी ही Available हैं इस तरह से सिर्फ 15 मिनट लगाकर आप अपनी वेबसाइट के लोड समय को कम कर सकते हैं और User experience को बढ़ा सकते हैं। मैं उम्मीद करता हूँ की अब आप अच्छे से जान चुके होंगे CDN kya hai और इसके फायदे क्या है यदि अब भी आपके मन में कोई सवाल है CDN kya hai को लेकर तो Comment box पर जरूर बताये हम आपकी सेवा में उपस्थित हैं। Article आपके लिए मददगार साबित हुआ है तो इसे Share जरूर करे।

Anil Srivastava
नमस्कार, मैं Anil Srivastava, TanvisH का Technical Author & Co-Founder हूँ! मुझे नयी नयी Technology से सम्बंधित चीज़ों को सीखना और दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरी आपसे विनती है की आप लोग इसी तरह हमारा सहयोग देते रहिये और हम आपके लिए नईं-नईं जानकारी उपलब्ध करवाते रहेंगे!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Subscribe to our newsletter